ये संकेत बताते हैं आपकी मृत्यु आपके नज़दीक है, तो अभी से हो जाईये सावधान

आध्यात्म

कहते हैं कि दुनिया में आये हो तो जाओगे भी. जी हाँ हर कोई इस दुनिया जन्म कर्म करने के लिए लेता है और फिर अपना समय पूरा होते ही सब कुछ छोड़ कर चला जाता है. भगवान् किसको और कब उठा ले ये किसी को नहीं मालूम होता. कोई इंसान महज़ छोटी सी उम्र में सब को छोड़कर चला जाता है तो वहीँ कुछ लोग ९० साल के भी हो जाते हैं और अपने परिवार के साथ ख़ुशी ख़ुशी जी रहे होते हैं. इस मामले में तो आप यही कह सकते हो कि ये होनी है जिसे आप टाल नहीं सकते. मृत्यु केवल आदमी की ही नहीं बल्कि बागवान की भी हुई है, उन्होंने अपना समय पूरा कर के दुनिया त्याग दी थी.

हमारे शास्त्रों में कहा गया है कि मृत्यु के बाद मनुष्य के प्राण हरने के लिए यमराज आते हैं. इसीलिए बताते हैं कि इंसान की जब मृत्यु होने वाली होती है तो मरने से कुछ दिन पहले ही यमराज उसे कुछ संकेत देते हैं कि उसका अंत नज़दीक है और अब उसको सारी मोह माया त्याग देनी चाहिए, लेकिन हम इंसान उन संकेतों की तरफ ध्यान नहीं देते हैं और ऐसे ही चले जाते हैं. तो चलिए आज हम आपको ऐसे ही कुछ संकेतों के बारे में बताते हैं…

शास्त्रों में बताया गया है कि जिस मनुष्य के सिर पर गिद्ध या कौवा जैसा पक्षी उसके ऊपर बैठ जाए तो समझ लीजियेगा  कि उसका अंत बहुत नजदीक है और उसकी एक महीने के अंदर मृत्यु होने वाली है. इसलिए उसको इस इशारे को समझ कर दान पुण्य की तरफ ध्यान देने लगना चाहिए.

 

दूसरा अगर त्रिदोष यानी पित, कफ, वात आदि में नाक बहना अगर शुरू हो जाए तो ये समझ लीजिये कि उस इंसान की मृत्यु बहुत करीब है और मात्र दस से पंद्रह दिन के अंदर हमेशा के लिए इस दुनिया को अलविदा कह देगा.

 

तीसरा अक्सर आपने देखा होगा कि जब आप चलते हैं तो आपकी परछाईं आपके साथ होती है, लेकिन ध्यान रहे कि अगर कभी आपको अपनी परछाईं पानी, तेल, घी या शीशे आदि में दिखाई ना दे तो समझ लीजियेगा कि आप छह माह के भीतर दुनिया को अलविदा कहने वाले हैं.

 

चौथा जिस व्यक्ति को सूर्य और चंद्रमा काले दिखाई दे जाए या फिर जिसके सामने सभी दिशायें घुमती नजर आने लगें तो इसका मतलब यह होता है कि उसके पास 4 से 5 महीने और बाकी हैं जीने के लिए.