एक IAS जो रात के अंधेरे में होटलों के बाहर फेका गया खाना बटोरता है, जानियें वजह

Featured, देश

फरीदाबाद : एक IAS जो रात के अंधेरे में होटलों के बाहर फेंका हुआ खाना बटोरता है. जी हां आपने होटलों के बाहर बचा हुआ खाना उठाने वाले तो देखे होंगे लेकिन अगर कोई IAS ऐसा करता दिख जाए तो आप जरूर हैरान रह जाएंगे लेकिन ऐसा फरीदाबाद में देखा जा सकता है.

जहां हरियाणा पुरातत्व विभाग के डायरेक्टर IAS प्रवीन कुमार अकसर रात के अंधेरे में होटलों के बाहर बचा हुआ खाना उठाते हैं. प्रवीन कुमार खाना उठाकर उसको साफ करते हैं और इसके बाद सड़क पर घूमने वाले गाय, बेसहारा कुत्तों व दूसरे जानवरों को खिलाते हैं.

दिन भर साहब बनकर पूरे प्रदेश का पुरात्तव विभाग संभालने वाले प्रवीन का फरीदाबाद में पिछले 5 दिनों से यह रूटीन बना हुआ है. यह IAS ऐसा इस लिए कर रहा है कि बर्बाद होने वाला अन्न बेसहारा व बेजुबान जानवरों के पेट में जा सके. पिछले 4 दिनों में शहर के कई बड़े होटल के बाहर जाकर प्रवीन कुमार ने यह काम किया है.

इस काम के दौरान वो अपने साथ कोई सरकारी स्टॉफ या सुरक्षा गार्ड लेकर नहीं चलते वस अकेले ही निकल पड़ते है. फरीदाबाद के सेक्टर-15 में रहने वाले आईएएस प्रवीन कुमार फरीदाबाद के जिला उपायुक्त और नगर निगम गुड़गांव के कमिश्नर रह चुके हैं. वे इस समय हरियाणा पुरातत्व विभाग में डायरेक्टर के पद पर तैनात हैं.    क्यों करते हैं ऐसा काम?

एक दिन आईएएस अधिकारी प्रवीण कुमार सूरजकुंड निजी होटल में गये हुए थे. वहां उन्होंने बहुत सारा खाना कूड़े में पड़ा हुआ देखा जिसे देखकर उनके मन में ख्याल आया कि ये खाना उन जानवरों की भूख मिटा सकता है जिनकी भूख के कारण सडकों पर ही मौत हो जाती है. 

बस फिर क्या था साहिब अपनी शर्ट की बाजू उपर करके कूड़े में पड़े हुए खाने को उठाने लगे और एकत्रित करके उसे आवारा पशुओं तक पहुंचाया. अधिक जानकारी देते हुए आईएएस अधिकारी प्रवीण कुमार ने कहां कि आज इंसान इतना स्वार्थी हो गया है कि उसे अपने सिवा किसी और का दुख नजर नहीं आता.