भारत

दिवालिया हो रहा है भारत का ये बड़ा बैंक, जल्द निकाल लें इस बैंक से अपना पैसा

दिवालिया हो रहा है भारत का ये बड़ा बैंक, जल्द निकाल लें इस बैंक से अपना पैसा

Bhopal : मध्यप्रदेश राज्य सहकारी बैंक (Apex Bank) के अंतर्गत आने वाले वाले कई जिला सहकारी बैंक कभी भी बंद हो सकते हैं। भारतीय रिजर्व बैंक की सख्ती ने पूरे मध्यप्रदेश के बैंकों की नींद उड़ा दी है।

कई बैंक अब धारा 11 की तरफ बढ़ते नजर आ रहे हैं। हजारों करोड़ रुपए का लोन अब तक वसूला नहीं जा सका है, इसके अलावा किसान भी इस लोन को नहीं देना चाहते हैं। ऐसे में बैंकों ने अपनी जिला शाखाओं को जिला प्रशासन की मदद लेकर सख्ती से वसूली के लिए कहा है।

क्यों बंद हो सकते हैं एमपी के सहकारी बैंक :

प्रदेश की जिला सहकारी बैंक जो 31 मार्च तक अपना सीआरएआर 9 फीसदी से ऊपर नहीं कर पाएंगे, उन बैंकों का लाइसेंस निरस्त किया जा सकता है। आरबीआई ने इसकी चेतावनी सभी बैंकों

है। इसके बाद जिला सहकारी बैंक भी हरकत में आ गए हैं।

क्या होता है सीआरएआर :

यह बैंक की पूंजी को मापने का एक तरीका है। यह वास्तव में बैंक की जोखिम वाली पूंजी का प्रतिशत बताता है। इस अनुपात का इस्तेमाल जमाकर्ताओं के धन की सुरक्षा और वित्तीय तंत्र के स्थायित्व के लिये किया जाता है। डिपॉजिट को नुकसान पहुंचाए बगैर लोन बुक पर बैंक कितना घाटा उठा सकता है, सीआरएआर से इसका पता चलता है। अगर यह अनुपात ज्यादा है तो इससे जमाकर्ताओं का जोखिम कम होता है।

MP में बकाया है करीब 20 हजार करोड़

प्रदेश के सभी सहकारी बैंकों ने किसानों को करीब 15 से 20 हजार करोड़ रुपए का लोन दिया था। यह वसूली समय पर नहीं हो पाई तो प्रदेश सरकार की जीरो प्रतिशत ब्याज पर ऋण देने की योजना पर भी सवाल खड़े हो जाएंगे।

38 जिले में कार्यरत है बैंक :

मध्यप्रदेश में राज्य सहकारी बैंक समेत 38 जिला केंद्रीय सहकारी बैंक कार्यरत हैं। इसकमें 4530 प्राथमिक कृषि साख सहकारी समितियां कार्यरत हैं।

सतना की बैंक पर लटकी तलवार :

सतना जिला सहकारी बैंक सतना पर लाइसेंस निरस्तगी की तलवार लटक गई है। क्योंकि, अभी तक इसका सीआरएआर मात्र डेढ़ फीसदी है। अब जिला सहकारी बैंक को बड़े पैमाने पर ऋण वसूली कर 9 फीसदी के पार इसे ले जाना है, जो इतने कम समय में संभव नहीं है। सतना में 50 हजार रुपए से ऊपर के 24 करोड़ से ज्यादा की रकम की वसूली नहीं हो पाई है, इसके लगभग 2617 प्रकरण हैं। इसलिए कई बैंक अब करो या मरो की स्थिति में है।कई बैंकों ने जारी की आरआरसी :प्रदेश की कई बैंक करो या मरो की स्थिति में है। इसलिए बैंकों ने भी सख्ती दिखाते हुए आरआरसी के माध्यम से लोन वसूली के लिए कार्रवाई शुरू कर दी है। बैंक प्रबंधन ने बकाया ऋण वसूलने के लिए अपने स्तर पर भी अभियान चलाया है। जिला कलेक्टरों से मदद मांगी गई है।

You may also like

Read More

post-image
Entertainment

13 साल के छात्र से 41 बार संबंध बनाकर टीचर हो गई प्रेग्नेंट,उसके बाद जो हुआ जानकर दंग रह जाएंगे

कहते हैं प्यार की कोई उम्र या सीमा नहीं होती है प्यार जिसको होना होता है वो कभी भी और किसी से भी हो...
Read More
post-image
बॉलीवुड

जैकलीन को देख बेकाबू हुआ एक्टर, कट बोलने पर भी लगातार चूमता रहा

टाइगर श्रॉफ और जैकलीन फर्नांडिस की फिल्म फ्लाइंग जट्ट रिलीज हो चुकी है बॉलीवुड स्टार टाइगर श्रॉफ और एक्ट्रेस जैकलिन फर्नांडीस ने फिल्म फ्लाइंग...
Read More
post-image
बॉलीवुड

अभी श्रीदेवी की गम से बाहर भी नहीं आया बॉलीवुड तबतक इस खबर ने सबको झकझोर दिया। …

दोस्तों 2018 का साल  फिल्म और TV इंडस्ट्री  के लिए कुछ खास नहीं रहा है हर दूसरे दिन कोई ना कोई बुरी खबर आ...
Read More
post-image
बॉलीवुड

साथ निभाना साथिया की गोपी असल जिंदगी में है बेहद हॉट ओर ग्लैमर, देखकर यकीन नहीं होगा

भारत में टीवी सीरियल को देखा और पसंद भी किया जाता है भारतीय टेलीविजन इंडस्ट्री कई बेहतरीन  सीरियल बनाएं उनमें से एक बेहतरीन सीरियल...
Read More
post-image
अजब ग़ज़ब

आकाश अंबानी की पार्टी में ऐश्वर्या हुई OOPS MOMENT का शिकार,शर्म से छुपाई आंखें

देश के सबसे अमीर बिजनेस मैन मुकेश अंबानी के बड़े  बेटे आकाश अंबानी की रिंग सेरेमनी के बाद पार्टी रखी गईजिसमे  बॉलीवुड के तमाम सितारे...
Read More