कंट्रोल के बाहर हो गया महिला का लेबर पेन, कॉरिडोर में ही दिया बच्चे को जन्म,तस्वीरे झकझोर देंगी,जननी तुझे नमन।

Uncategorized

2018 गर्भवती महिला ने इस तरह से कॉरिडोर में ही दे दिया बच्चे को जन्म… इस दुनिया में माँ से बढ़कर कोई रिश्ता नहीं होता है और इसीलिए माँ को भगवान के बराबर का स्थान दिया गया है.

एक माँ का स्वभाव ऐसा होता है की वो अपने बच्चे की खातिर किसी भी हद तक जा सकती है और यही स्वभाव दुनिया के हर माँ का होता फिर चाहे वो दुनिया का कोई भी कोना क्यों ना हो बच्चे की जान के लिए मां किसी भी हद को पार कर सकती है.

3 बजे उनके पेट में भयानक दर्द उठा ! इसीलिए माँ को इस दुनिया में सबसे बड़ी त्याग और बलिदान की मूरत कहा गया है. आज ऐसी ही एक माँ की तस्वीरे सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही हैं. आपको बता दें कि अमेरिका के मैनहटन शहर के रिले केन्सास की रहने वाली जेसिका हॉगन ने पिछले साल जुलाई में इस बच्चे को जन्म दिया था.

उन्होनें अब अपने इस बच्चे के जन्म के बारे में तस्वीरों के साथ बताया है कि, आखिर किस तरह उन्होनें बच्चे को जन्म दिया ? दरअसल इस माँ ने अपने नवजात बच्चे की जान बचाने के लिए हॉस्पिटल के कॉरिडोर में किसी की भी फिक्र ना करते हुए बच्चे को जन्म दिया.

आपको बता दें कि जेसिका हॉगन जब अपने घर पर थी  तब उन्हें तो उस वक्त लेबर पेन नहीं हो रहा था. क्रिस्टी हॉस्पिटल लेकर पहुंचे ! इसीलिए उन्हें शायद  इस बात का भी अंदाज़ा भी नहीं था कि उन्हें बच्चा कब होगा, वो सामान्य तरीके से अपने घर पर ही  थीं कि लेकिन उसी रात अचान​क तकरीबन 3 बजे उनके पेट में भयानक दर्द उठा. जेसिका समझ गयी की उन्हें लेबर पैन स्टार्ट हो चूका है और उन्हें अब किसी भी वक्त बच्चा हो सकता है.

तब जेसिका के पति उन्हें इसी हालत में जल्दी जल्दी मैनहटन शहर के क्रिस्टी हॉस्पिटल लेकर पहुंचे. वह जैसे ही दोनों हॉस्पिटल में दाखिल ही हुए थें कि, जेसिका का लेबर पेन और भी तेजी से  बढ़ गया. वो अपना  पेट पकड़ कर जोर जोर से कराहने लगी क्योंकि उन्हें असहनीय दर्द महसूस हो रहा था. जेसिका समझ गयी की वो वार्ड तक भी नहीं पहुँच पाएंगी उन्होनें बताया कि, उन्हें उस वक्त कुछ भी समझ नहीं आ रहा था कि, वो आखिर क्या करें. लेकिन उस वक्त उन्हें केवल यही समझ में आ रहा था की  किसी भी तरह से उन्हें अपने इस बच्चे को जन्म देना था, दर्द और भी बढ़ता जा रहा था.

इसी दौरान उन्हें लगा कि अब किसी भी वक्त बच्चा हो सकता है. उस वक्त उनके पति उनके साथ थें और वो भी तेज कदमों से वार्ड की तरफ बढ़ रहे थें लेकिन तभी अचानक से जेसिका तेज आवाज में  चीखीं और वो अपना ट्राउजर नीचे करने लगी. जेसिका नीचे बैठने लगी ! जेसिका ने बताया कि, मैनें अपना पैंट नीचे किया और अपने पति की तरफ देखते हुए चीखा कि, ‘वो बाहर आ रहा है उसे पकड़ो’ इतना कहते हुए जेसिका नीचे बैठने लगी. तभी उनके पति ने उनके पैरों के बीच से बच्चे को पकड़ लिया और बाहर निकाला इसी बीच कॉरिडोर में चीख सुनकर हॉस्पिटल की कुछ नर्सें भी मौके पर वहां पहुंच गयी.

उन्हें उसी हालत में कॉरिडोर में ही लिटा दिया  गया. जिसके बाद उन्होनें अपने बच्चे को जन्म दिया. बच्चा स्वस्थ और सकुशल था, नर्सों ने अपने जीवन में पहली बार हॉस्पिटल के कॉरिडोर में किसी मां का इस तरह से प्रसव कराया था. अगर आपको दी गई जानकारी पसंद आई तो ऐसी ही और खबरों के लिए हमें फ़ॉलो कीजिए।