बोल्ड सीन के वजह से इन बैन फिल्मों को चोरी छुपे बंद कमरे में YouTube पर देखते हैं लोग…

Uncategorized

विवादित फिल्मों में से एक ‘पद्मावत’ को लेकर पूरे देश में शोर शराबा मचा हुआ है। संजय लीला भंसाली की इस फिल्म के रिलीज को लेकर तोड़—फोड़, मरने—मारने तक का सिलसिला जारी है। ऐसा पहली बार नहीं हुआ है जब किसी फिल्म को लेकर इतना हंगामा हुआ है। भारत में ऐसी बहुत सारी फ़िल्में बनी हैं अपनी बोल्डनेस की वजह से बैन हो गयी हैं, लेकिन बैन के बावजूद भी कुछ फिल्में ऐसी हैं जिसे बड़ी आसानी से यूट्यूब पर देखा जा सकता हैं। आज हम आपाके कुछ ऐसी ही फिल्मों के बारे में बताने जा रहे …..

सीन्स : एक पादरी और एक महिला के सम्भन्धों पर बनाई गई फिल्म ‘सीन्स’ साल 2005 में आई हैं। इस फिल्म के सब्जेक्ट को लेकर ईसाई धर्म में काफी बवाल हुआ था और सेंसर बोर्ड ने इसे रिलीज ना करने का फैसला लिया। वहीं अगर आप इस फिल्म को देखना चाहते हैं तो ये आपको आसानी से यूट्यूब पर मिल जाएगी। आपको बता दें कि इसे देखने वालो की लिस्ट काफी बड़ी हैं।

अनफ्रीडम : हमारे समाज में समलैंगिक संबंधों को बहुत ही गल्त माना जाता है। वहीं ‘अनफ्रीडम’ फिल्म समलैंगिक संबंधों पर बनाई गई है। इस फिल्म को सेंसर बोर्ड ने बैन कर रखा हैं क्यूंकि इस तरह की फिल्म को आप अपने परिवार को साथ नहीं देख सकते हैं। लेकिन इस फिल्म को आप यूट्यूब पर ड़ी ही आसानी से देख सकते हैं।

बेंडिट क्वीन : एक आम लड़की का जीवन एकदम से कैसे बदलता है। ये ‘बेडिंट क्वीन’ फिल्म में दिखाया गया है। चम्बल घाटी की डकैत फूलन देवी के जीवन पर आधारित ये फिल्म आपके दिल को छु लेगी। जिस तरह से फूलना देवी और उसके परिवार के साथ अन्याय हुआ था उसे सही मायनो में बड़े परदे पर दिखाया जाना चाहिए था लेकिन फिल्म में खून-खराबे और बोल्ड दृश्यों की वजह से सेंसर बोर्ड ने अंतिम फैसला ये लिए की इस फिल्म को सिनेमाघरों में ना दिखाया जाएं। लेकिन इस फिल्म को आप यूट्यूब पर देख सकते हैं और आपको देखना ही चाहिए।

पांच : हमेशा लीक से कुछ कर फिल्में बनाने अनुराग कश्यप ने 2003 में ‘पांच’ बनाई थी। सेंसर बोर्ड ने इस फिल्म को इसलिए बेन किया क्यूंकि ये फिल्म में बहुत ज्यादा हिंसा और नशाखोरी के अलावा और भी बहुत कुछ दिखाया गया था। हालाँकि ये फिल्म यूट्यूब पर उपलब्ध हैं।

यू आर ऍफ़ प्रोफेसर : पंकज आडवाणी की फिल्म ‘यू आर एॅफ प्रोफेसर’ में शरमन जोशी, मनोज पाहवा और अन्तर माली जैसे एक्टर्स ने बेहतरीन अभिनया किया है। इस फिल्म में बोल्ड और हिंसात्मक दृश्यों की वजह से इस फिल्म को सेंसर बोर्ड ने बैन कर दिया।