सैक्स टूरिज्म के लिए पूरी दुनिया में मशहूर हैं ये 10 देश,सभी मर्द करते हैं इन देशों में जाना पसंद !

Uncategorized

ज्यादातर लोग लगातार काम के प्रैशर और मांइड फ्रैश करने के लिए घूमने-फिरने का प्लान बनाते हैं। कुछ लोग अलग-अलग तरह के व्यंजन खाने और खूबसूरत नजारे देखने के शौकीन होते हैं लेकिन कुछ लोगों के लिए टूर प्लान का मतलब फुल थ्रिल होता है। सैक्स टूरिज्म भी इसी थ्रिल का एक मेजर पार्ट है जो बहुतसारे देशों में बड़ी तेजी से फैल रहा है। यह जल्द कमाई का जरिया है जहां क्लाइंट के रूप में ज्यादा मर्द और सर्विंग के लिए महिलाएं होती है। करोंड़ों का कारोबार कराने वाले इस इंडस्ट्री से देश को अच्छा खासा फायदा होता है।

स्पेन

स्पेन में मैड्रिड, बार्सिलोना, इबिजा जैसे शहर टूरिस्टों की फेवरेट जगहों में शामिल हैं लेकिन इकोनॉमी को बढ़ाने के मद्देनजर स्पेन में अब सैक्स टूरिज्म भी शुरू हो चुका है। कानूनी तौर पर वैध होने के चलते इसे यूरोप का सबसे फेमस सैक्स टूरिस्टज्म डेस्टिनेशन बनाने का काम चल रहा है। यहां सैक्स वर्कर्स ज्यादातर साउथ अमरीका और स्पेनिश महिलाएं को देखा जा सकता है।

थाईलैंड

सैक्स टूरिज्म के नाम से मशहूर देशों की लिस्ट में थाईलैंड का नंबर सबसे ऊपर आता है। बैंकाक में बहुत सारे रेड लाइट एरिया मौजूद हैं। लगभग 3 मिलियन सैक्स वर्कर्स थाईलैंड में एक्टिव हैं। यहां की सरकार बढ़ते हुए टूरिज्म को देखते हुए इसे लीगल करने की प्लानिंग कर रही है। थाई कल्चर इस चीज को लाइफस्टाइल के लिए जरूरी मानते हैं।

Image result for sex country

ब्राजील

ब्राजील देश अपने टूरिस्ट को सिर्फ खूबसूरत वाइल्ड लाइफ, बीच और दुनियाभर में मशहूर कार्निवल फेस्टिवल के चलते ही अट्रैक्ट नहीं करता बल्कि सैक्स टूरिज्म भी एक बड़ी वजह है। ब्राजील गवर्नमेंट वर्ल्ड कप के दौरान के दौरान इस धंधे पर खासतौर से निगरानी रखती है। यहां फीमेल ही नहीं मेल सेक्स टूरिज्म की भी बड़ी डिमांड है।

डोमिनिकन रिपब्लिक

ज्यादातर कैरीबियन देशों में सेक्स टूरिज्म का कारोबार दिनों-दिन बढ़ रहा है, खासतौर से फीमेल सेक्स टूरिज्म। डोमिनिकन रिपब्लिक भी उन्हीं खास देशों में से एक है। जहां लगभग 60 हजार से लेकर 100000 महिलाएं सेक्स वर्कर हैं जो इस काम के लिए अलग देशों में भी भेजी जाती हैं। डोमिनिकन रिपब्लिक में प्रॉस्टिट्यूशन लीगल है। जिसकी वजह से यहां बहुत ही कम उम्र के सेक्स वर्करर्स को देखा जा सकता है। यूनाइटेड नेशंस और यूरोप के बीच बसे होने के कारण इस देश में सेक्स टूरिज्म बहुत ही मशहूर है।

कंबोडिया

डोमिनिकन रिपब्लिक भी उन्हीं खास देशों में से एक है। जहां लगभग 60 हजार से लेकर 100000 महिलाएं सैक्स वर्कर हैं जो इस काम के लिए अलग देशों में भी भेजी जाती हैं। डोमिनिकन रिपब्लिक में प्रॉस्टिट्यूशन लीगल है, जिसकी वजह से यहां बहुत ही कम उम्र के सैक्स वर्करर्स को देखा जा सकता है। यूनाइटेड नेशंस और यूरोप के बीच बसे होने के कारण इस देश में सेक्स टूरिज्म बहुत ही मशहूर है।

Image result for sex country

नीदरलैंड्स

नीदरलैंड्स का एम्सटर्डम अपनी खूबसूरती के लिए कम सेक्स टूरिज्म के लिए ज्यादा फेमस है। यहां का रेड लाइट डिसट्रिक्ट में लोअर से लेकर अपर क्लास तक के लिए सेक्स वर्कर्स अवेलेबल कराए जाते हैं। इसके अलावा यहां पीप शॉप, स्ट्रिप क्लब्स, सेक्स शॉप्स की भी भरमार है। प्रॉस्टिट्यूशन लीगल होने के कारण यहां सेफ्टी का खासतौर से ध्यान रखा जाता है। इस काम के लिए आपको टाइम, दिन और उम्र के हिसाब से लगभग 35-100 यूरो खर्च करने पड़ सकते हैं।

केन्या

केन्या में सेक्स टूरिज्म के बूम होने के पीछे यहां की गरीबी है। गरीबी के साथ-साथ अनपढ़ होना भी एक बड़ी वजह है जिसके चलते यहां एचआईवी/एड्स जैसी बीमारियां फैल रही हैं। 12 साल के बच्चों तक को इस धंधे में काम करते हुए देखा जा सकता है। लड़कियों को यहां दिनभर में 5-6 क्लाइंट को सर्विंग करते हुए देखा जा सकता है। केन्या देश के इकोनॉमी का सबसे बड़ा साधन यहां का सेक्स टूरिज्म है।

फिलीपिन्स

फिलीपींस में देह-व्यापार गैर-कानूनी है और इसके लिए यहां कई कड़े नियम बनाए गए हैं, बावजूद इसके यहां पर चोरी छिपे सैक्स टूरिज्म जोरों-शोरों पर चल रहा है। यहां लगभग 5000000 लोग सेक्स वर्कर्स के तौर पर काम कर रहे हैं। आश्चर्य की बात ये है कि यहां आने वाले 40-60 प्रतिशत टूरिस्ट फिलीपिन्स घूमने नहीं बल्कि सेक्स टूरिज्म का मजा लेने आते हैं।

Related image

कोलंबिया

सैक्स टूरिज्म के लिए मशूहर देशों में ज्यादातर साउथईस्ट एशिया में है लेकिन खासतौर से अलग-अलग तरह के ड्रग्स के लिए मशहूर साउथ अमरीका का कोलंबिया अपने सैक्स टूरिज्म के लिए भी जाना जाता है। यहां इस धंधे में भी अच्छा-खास मोल-भाव चलता है जो क्लाइंट्स को अट्रैक्ट करता है।

इंडोनेशिया

इंडोनेशिया चाइल्ड सैक्स ट्रैफिकिंग के लिए काफी मशहूर है। हैरानी की बात तो यह है कि इसे लीगल माना जाता है। इसी के चलते यहां बाहर से आने वाले टूरिस्टों की संख्या हजारों में होती है। यहां सैक्स वर्कर्स को सोशल मीडिया के द्वारा मोल-भाव करवाकर दूसरे देशों में भेजा जाता है।