बड़ी खबर : जय राम सरकार ने सत्ता में आकर 1 महीने में निभाया अपना सबसे बड़ा वादा,23 को CM खुद करेंगे उद्घाटन।

देश

के वादों की नहीं इरादों की सरकार है और यह बात जय राम ठाकुर ने साबित कर दी है जो वादा जय राम सरकार ने किया था उसे इतनी जल्दी यह सरकार पूरा कर देगी इसके बारे में किसी ने नहीं सोचा था महिलाओं के लिए उठाया गया बहुत ही अच्छा कदम महिलाओं की सुरक्षा की चिंता इस सरकार को है यह साबित हो गया।

हिमाचल में महिलाओं की सुरक्षा के प्रति चिंतित प्रदेश सरकार ने काम शुरू करते हुए गुड़िया हेल्पलाइन तैयार कर दी है। 1091 नंबर पर अब हर महिला अपनी शिकायत दर्ज करवा सकती है। हालांकि औपचारिक तौर पर इस योजना की शुरुआत दो दिन बाद होगी लेकिन हेल्पलाइन ने काम करना शुरू कर दिया है। भाजपा के विजन दस्तावेज के अहम वादे को पूरा करने की दिशा में बड़ा कदम बढ़ाया गया है। पुलिस के वायरलेस विंग में गुडि़या हेल्पलाइन आरंभ हो गई है।

यह नंबर टोल फ्री होगा। इस पर डायल करते ही आवाज आ रही है नमस्कार.. गुड़िया हेल्पलाइन में आपका स्वागत है..अभी इसकी आधिकारिक लांचिंग 23 जनवरी को मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर करेंगे, लेकिन इसने कार्य करना आरंभ कर दिया है। अब इस पर किसी भी मोबाइल नंबर से महिला अपराधों की शिकायत हो सकेगी।

पहले इस पर केवल बीएसएनएल की सेवा से जुड़े उपभोक्ता ही डायल कर सकते थे। पहले इस नंबर पर बाल एवं महिला अपराधों की शिकायत की जाती थी, लेकिन अब इसे गुड़िया हेल्पलाइन का नाम दिया गया है। इसमें जो कोई भी महिला शिकायत करेगी, उसे ऑनलाइन तत्काल संबंधित थाने को भेजी जाएगी। खास बात यह है कि शिकायत के 48 घंटे के भीतर एक्शन टेकन रिपोर्ट (एटीआर) मुख्यमंत्री कार्यालय को देनी होगी।

—————-

क्या था वादा

भाजपा ने चुनाव के दौरान अपने विजन दस्तावेज में वादा किया था कि अगर वह सत्ता में आई तो फिर महिला सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए गुड़िया योजना के तहत महिला पुलिस थाने और हेल्पलाइन स्थापित करेगी। इसके अलावा यह भी सकंल्प लिया गया था कि पूर्व सैनिकों से मेजर सोमनाथ वाहिनी गठित होगी। यह चोरी, डकै ती, नशीले पदार्थो पर रोक लगाएगी।

————-

महिलाओं के हाथ होगी कमान

गुड़िया हेल्पलाइन में फिलहाल पुरुष भी सेवाएं दे रहे हैं लेकिन भविष्य में यहां सिर्फ महिलाओं की तैनाती होगी। इससे कोई भी महिला अपनी बात आसानी से बात रख सकती है। हेल्पलाइन में तैनात कर्मचारियों के अनुसार शिकायत के तुरंत बाद संबंधित थाने को रिपोर्ट भेजी जाएगी और उस पर कार्रवाई की रिपोर्ट भी तलब की जाएगी। यह हेल्पलाइन 24 घंटे काम करेगी। शिकायत दर्ज करने के लिए तीन शिफ्टों में यहां कर्मचारी काम करेंगे।

——————

महिलाओं के लिए तैयार किया नया एप

-बटन दबाते ही रिश्तेदारों, पुलिस स्टाफ को जाएगा संदेश पीड़िता की लोकेशन का चलेगा पता

– नवनियुक्त डीजीपी ने सरकार के आदेश पर तैयार करवाया एप

राज्य ब्यूरो, शिमला : प्रदेश के नए डीजीपी एसआर मरड़ी एक्शन में आ गए हैं। उन्होंने सरकार के आदेश पर महिला सुरक्षा के लिए एक मोबाइल फोन एप भी तैयार करवाया है। इनके माध्यम से कोई भी महिला जैसे ही अपने एंडरॉयड फोन का बटन दबाएगी, उसके साथ घटित अपराध की रिश्तेदारों, पुलिस को संदेश मिलेगा। इसमें उसकी लोकेशन का भी पता चल सकेगा। इससे पुलिस मौका- ए- वारदात पर उसी वक्त पहुंच सकेगी। पुलिस को प्राथमिकी दर्ज होने का इंतजार नहीं करना पड़ेगा। इसे दूसरे आपातकालीन नंबरों जैसे पुलिस सहायता कक्ष 100, 112 से भी जोड़ा जाएगा। दूसरी तमाम तरह की हेल्पलाइन से भी जोड़ेंगे। इसके लिए महिला को ऐप डाउनलोड़ करना होगा। उसे अपने परिजनों के नंबर कुछ अहम नंबर इसमें दर्ज करवाने होंगे। ऐसा एप भी पहली बार होगा।

Source