दुबई के ये सबसे चौंकाने वाले क़ानून जानकार आपको यक़ीन नहीं होगा

अजब ग़ज़ब, दुनिया

दुबई जा रहे हैं तो जान लें ये 10 जरूरी बातें

1. ये गलती पडेगी भारी :- दुबई में जॉब करके मोटा पैसा कमाने का सपना संजोए बैठे भारतीय लोगों के यह जानना बेहद जरूरी है कि वहां ऎसे कौनसे कानून हैं जिनका उल्लंघन करने पर उन्हें जेल की हवा खानी पड़ सकती है। दुबई में कुछ ऎसी भी व्यवस्थाएं हैं जिनके बारे में आपकी अधूरी जानकारी मुसीबतों का पहाड़ खड़ा कर सकती है।

हम आपको बता रहे हैं उन नियम-कानूनों के बारे में जिनको जानना आपके लिए अति-आवश्यक है। आप दुबई में काम-काज के लिए या फिर घूमने-फिरने के इरादे से पहुंच गए हैं और आपके पासपोर्ट में किसी भी तरह की गलत जानकारी है, तो समझिए आपको कोई नहीं बचा स कता है। दुबई के कड़े कानूनी नियमों और उनकी पालना में कोई कोताही नहीं बरती जाती है। कड़ी पूछताछ की यातना तो आम बात होगी और जेल की सलाखों का तोहफा भी मिल सकता है।

2. वादा तोड़ने पर भी जेल :- अमूमन दुनिया के देशों में वादा तोड़ने पर खास प्रतिक्रिया नहीं होती है, कम से कम कानूनी कार्यवाही तो नहीं होगी, लेकिन दुबई में पैसे देने का वादा करना और उसे तोड़ देना सलाखों के पीछे भेज सकता है। अगर आपने किसी को चैक दिया और वह बाउंस हो गया, तो इसे सामान्य बात नहीं माना जाएगा। आपको इस जुर्म में गिरफ्तार किया जा सकता है, जेल हो सकती है और जब तक आप कर्ज नहीं चुकाए दुबई में ही रहना पड़ेगा।

3. छोटी सी गलती, कर सकती है जेब ढीली :- दुबई दुनिया के सबसे ज्यादा सुरक्षित और साफ-सुथरे शहरों में से एक है। यह शहर इसलिए साफ-सुथरा नहीं है कि यहां सफाईकर्मचारियों की भरमार है, इसका कारण है कड़े नियम। आपको यहां-वहां थूकना और गंदगी फैलाने पर भारी जुर्माना भरना पड़ता है। यह सिर्फ नियमों की बात नहीं है, यहां नियमों का पालन करवाने में किसी तरह की नरमी नहीं बरती जाती है।

4. ये ना करें भूल कर भी :- कई देशों में धार्मिक आधार पर शराब का सेवन पूर्णतया प्रतिबंधित है। हालांकि दुबई में शराब कानूनी तौर पर आसानी से मिल जाती है। आपको दिक्कत यह हो सकती है कि अगर आपने अधिकृत स्थानों की बजाय कहीं ओर शराब का सेवन किया, तो जुर्माना और चेतावनी दोनों साथ मिलेगी। दुबई में केवल होटल्स, रेस्टोरेंट और बार्स में ही शराब परोसी जाती है वो भी तय लाइसेंस के जरिए।

5. संडे की नहीं मिलती छुट्टी :- दुबई में संयुक्त अरब अमीरात का हॉलीडे कलैंडर लागू होता है। इसलिए यहां शुक्रवार और शनिवार के दिन सार्वजनिक अवकाश होता है। मतलब साफ है कि रविवार को आपको काम पर जाना होता है। हालांकि आप अपनी कम्पनी से एडजेस्टमेंट करके अपनी छुटि्टयां तय कर सकते हैं। साथ ही यह भी जान लें कि यहां पर ऑफिसेज में 8-9 घंटे काम करना होता है। अमूमन प्रवासियों को यहां साल में 30 दिन की छुट्टी दी जाती है।

6. कैमरा हर वक्त आपके पीछे :- यहां पर हर जगह कै मरा लगे हुए रहते हैं। पुलिसकर्मी कम और कैमरों की संख्या उनसे कहीं ज्यादा। ज्यादातर लोग यहां तेज स्पीड पर गाड़ी चलाते नजर आएंगे, लेकिन इस दौरान थोड़ी सी गलती भारी पड़ जाती है। मुड़ते समय, स्पीड लिमिट चेंज होते हुए और उतार-चढ़ाव वाले रास्तों पर आपको फाइन का सामना करना पड़ सकता है। क्योंकि जिससे पहले आप स्पीड लिमिट के बारे में पढ़ेंगे, उससे पहले तो आपका चालान किया जा चुका होगा और चालान भरने तक तो आपकी गाडी को जब्त किया जा चुका होगा।

7. खुल्लम-खुल्ला प्यार पड़ जाता है भारी :- दुबई में खुल्लम-खुल्ला प्यारका इजहार करना आपको भारी पड़ सकता है। दुबई के नियमों के अनुसार आपको सार्वजनिक रूप से प्यार का इजहार जैसे किस करना, गले लगने की मनाही है।

8. शादी से पहले नहीं बना सकते संबंध :- अगर आप दुबई में हैं और अविवाहित हैं, तो आप शारीरिक संबंध नहीं बना सकते हैं। साथ ही अगर आप अपने देश में अपने पार्टनर के साथ सालों से रह रहे हैं और इसके बाद दुबई जाते हैं, तो भी आप कानूनी रूप से साथ में नहीं रह सकते हैं। इसके बावजूद भी आपने बिना शादी पार्टनर के साथ रूम शेयर किया, तो आपको जेल में डाला जा सकता है।

9. ऎसा मजा कहीं और कहां? : – यहां पर काम करना इसलिए ज्यादा लोगों की चाहत बन जाता है क्योंकि यहां आपकी आमदनी पर किसी तरह का पर्सनल और इनकम टैक्स नहीं है। ना ही कोई टैक्स फार्म है और ना ही कोई क्लेम करने का झंझट। मतलब साफ है, जितना आपने कमाया वो सब सिर्फ और सिर्फ आपकी दौलत है।

10. कमाओ और अपनों को भेजो :- दुबई में आपकी इनकम पर कोई टैक्स नहीं है,यह तो आप जान ही गए। अब पढिए एक और शानदार जानकारी। आप अपने कमाए हुए पैसे को सीधे अपने देश अपनों को बिना किसी टैक्स के भेज सकते हैं। आप भारतीय हैं और अपनी कमाई घर भेजना चाहते हैं, तो आपको बस मनी ट्रांसफर फीस चुकानी होती है। इस फीस से भी आप बच सकते हैं, अगर आपने सही बैंक चुना है।