सीएम जयराम ने बताया विकास का 100 दिन का लक्ष्य,प्रदेश के सामने रखी बड़ी बड़ी बातें सभी के लिए जानना जरूरी।

Uncategorized

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने विपक्ष के सवालों पर तीखा पलटवार कर विकास का 100 दिन का रोडमैप रखा। उन्होंने कहा कि सरकार चरणबद्ध तरीके से हर सौ दिन का लक्ष्य तय कर विकास करेगी। उन्होंने कहा कि सरकार पैसे का रोना नहीं रोती पर जनता को जानने का अधिकार है कि उन पर कितना कर्जा है।

46500 करोड़ का कर्जा है सरकार पर, लेकिन पैसा विकास में बाधा नहीं बनेगा। प्रदेश को केंद्र से मिलने वाले बेलआउट पैकेज पर उन्होंने सदन में स्थिति स्पष्ट की। जयराम ने सदस्यों को अवगत करवाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से उन्होंने बेलआउट पैकेज की कभी बात नहीं की। प्रधानमंत्री ने खुलेमन से सहयोग करने का आश्वासन दिया है।

उन्होंने कहा कि मोदी पहले से ही हिमाचल को अपना मानते हैं। केंद्र से उन्हें भरपूर मदद मिलेगी, ऐसा केंद्र सरकार ने वायदा किया है। उन्होंने कहा कि 14वें वित्तायोग से भी हिमाचल को खुलकर मदद मिली है और यदि यह मदद न मिलती तो सरकार को कोष बंद करने की नौबत आ सकती थी। राज्यपाल के अभिभाषण में सरकार की नीतियों का जिक्र न होने पर सीएम ने कहा‌ कि वे धैर्य रखें और सरकार जब नीति बनाएगी ओर जो काम करेगी उसकी जानकारी विपक्ष को दी जाएगी।

उन्होंने कहा कि 63 राष्ट्रीय राजमार्गों का कार्य तेजी से करवाएंगे। वीरभद्र सरकार ने जानबूझकर एनएच के कार्यों को धीमा किया। मैं कम बोलता हूं, लेकिन काम ज्यादा करने की कोशिश करता हूं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आवारा पशुओं को लेकर उनकी सरकार ने जो फैसला लिया है अब उसके तहत हर विधानसभा में एक गोसदन खोलेंगे। राज्य सरकार बदले की भावना से कोई काम नहीं करेगी।

पिछली सरकार के छह माह में जो संस्थान खुले हैं या जिनके शिलान्यास हुए हैं उनकी समीक्षा होगी। यदि सभी मापदंड और बजट के साथ खोले गए हैं वह काम करते रहेंगे।जहां पर कुछ कमियां हैं उन पर फिर विचार किया जाएगा। यह खुली सरकार है और सभी से सुझाव लेकर कार्य करने वाली है।

नेता विपक्ष मुकेश के संघ के दखल वाले बयान पर जयराम बोले सरकार का स्टीयरिंग और ब्रेक दोनों उनके पास हैं। उन्होंने कहा कि कल कुछ सदस्य कह रहे थे कि इस सरकार का स्टीयरिंग तो सीएम के पास है, लेकिन ब्रेक कहीं और है, लेकिन ऐसा नहीं है। स्टीयरिंग और ब्रेक उनके ही पास है और यह गाड़ी फिट है सभी को सुरक्षित लक्ष्य तक पहुंचाएगी।

माफिया राज होगा खत्म, रोजगार होगा फोकस 
जयराम ठाकुर ने कहा कि राज्य में माफिया के लिए कोई स्थान नहीं हैं। इसके लिए विपक्ष का सहयोग भी जरूरी है। माफिया राज खत्म होना चाहिए। इसके लिए कोई जगह नहीं है। उनका कहना था कि सरकार में भ्रष्टाचार के लिए भी कोई स्थान नहीं है। युवा बेरोजगारी भत्ता नहीं रोजगार चाहता है।

इसलिए उसने कांग्रेस सरकार को नकारा है। कांग्रेस सरकार ने इसे जब घोषित किया तो केवल 20 हजार को ही बेरोजगारी भत्ता मिला है और इस पर 7.50 करोड़ रूपए खर्च हुए हैं। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार आजाविका के साधन कैसे हों इस पर काम करेगी। उनका कहना था कि सबको रोजगार देना संभव नहीं है। सरकार संसाधन जुटाएगी और युवाओं को आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में कदम उठाएगी।

सूरज के परिजनों को तीन लाख की सहायता
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में कुछ ऐसी घटनाएं हुई हैं जिनका जिक्र सदन में हुआ है। राज्यपाल के अभिभाषण में होशियार सिंह और गुड़िया हेल्पलाइन शुरू करने से हम दिशा तय कर चुके हैं। गुड़िया कांड में निर्दोषों को जेल में डाला गया। सूरज की हत्या हुई सरकार अब उसके परिजनों को तीन लाख रुपये देगी। पुलिस की हर रेंज में विशेष सेल खोले जा रहे हैं।

NewsSource