काशी पहुँची “राष्ट्रीय एकात्मकता यात्रा” का हुआ अभिनंदन

उत्तर प्रदेश, देश

आज अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद काशी हिन्दू विश्वविद्यालय द्वारा “राष्ट्रीय एकात्मा यात्रा” का भव्य स्वागत एवं अभिनंदन किया गया

यह यात्रा ओंकारेश्वर में आदिगुरू शंकराचार्य जी की 108 फीट उंची मुर्ती की स्थापना हेतु आदि गुरू शंकराचार्य जी के गाँव केरल से निकाली गई है

यह यात्रा विभिन्न राज्यों से होती हुई आज काशी आई है

इस यात्रा का उद्देश्य उन सभी स्थानों की मिट्टी एवं धातु इक्ट्ठा करना है जहाँ जहाँ आदिगुरू शंकराचार्य जी नें भ्रमण किया था

इस अवसर पर राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य एवं विभाग संयोजक चक्रपाणि ओझा ने “राष्ट्रीय एकात्मकता यात्रा” बोलते हुए पर कहा कि “इस देश में व्यक्तिगत स्तर के विकास को बढ़ाने के लिये भारत में राष्ट्रीय एकीकरण का बहुत महत्व है और ये इसे एक मजबूत देश बनाता है। और यह सांस्कृतिक विरासतों को संजोनें से ही संभव है”

प्रांत मंत्री भूपेन्द्र सिंह में कहा कि “भारत एक ऐसा देश है जहाँ लोग विभिन्न धर्म, क्षेत्र, परंपरा, नस्ल, जाति,रंग और पंथ के लोग एक साथ रहते हैं। इसलिये, राष्ट्रीय एकीकरण बनाने के लिये भारत में लोगों का एकीकरण जरुरी है और यह सांस्कृतिक चीजों को सहेजनें से ही होगा ”

इस अवसर पर प्रांत कार्यकारिणी सदस्य सौरभ राय , समीर सिंह, अविनाश मिश्रा, मनीष गौड़, कृष्ण कुमार अग्रहरि , शोभित, यशवीर ,पीयूष द्विवेदी, अविनाश सिंह, सुयज्ञ राय सहित सैकड़ों कार्यकर्ता उपस्थित रहे