महिला नेता का खुलासा – राजनेता हमें रैली से पहले बिस्तर पर ले जाते हैं और रात भर….

दुनिया, पाकिस्तान

नई दिल्ली – हॉलीवुड अभिनेत्री एलिसा मिलानो ने कुछ दिनों पहले यौन उत्पीड़न के खिलाफ #MeToo कैंपेन शुरु किया था। इस कैंपेन के जरिए दुनियाभर की कई सेलीब्रिटी और आम महिलाओं ने अपने साथ हुए यौन उत्‍पीड़न और शोषण की घटनाओं के बारे में बताया। #MeToo कैंपेन में अब तक जितनी भी महिलाओं ने अपनी कहानी बयां कि है उनमें सबसे चौकाने वाला खुलासा पाकिस्तान की एक महिला नेता ने किया है। पाकिस्तानी महिला नेता आइशा गुलालाई ने तहरीक-ए-इंसाफ के चीफ और पूर्व क्रिकेटर इमरान खान पर यौन शोषण का सनसनीखेज आरोप लगाया है।

दरअसल, आइशा गुलालाई ने ट्वीट कर इमरान खान पर आरोप लगाया है कि वो अपने समर्थकों से उन पर एसिड अटैक करवाने की साजिश कर रहे हैं। आपको बता दें कि आइशा पाकिस्तानी की एक युवा महिला नेता हैं जिन्होंने #MeToo हैंडल के जरिए ट्वीट किया है कि, ‘राजनेता इमरान खान मुझे परेशान कर रहे हैं और उनके समर्थक मेरे चेहरे पर एसिड अटैक करने की साजिश कर रहे हैं।’। आइशा ने इस बात का सबूत भी देने को कहा है। आपको बता दें कि आइशा पाकिस्तान के दक्षिण वजीरिस्तान की रहने वाली पाकिस्तानी युवा महिला नेता हैं।

गौरतलब है कि पाकिस्तानी नेता आइशा ने पहले भी इमरान खान पर आरोप लगाया था कि वे उन्हें अश्लील मैसेज भेज रहे हैं। आइशा ने इस बात का भी खुलासा किया था कि इमरान दूसरी महिला नेताओं का भी यौन उत्पीड़न कर रहे हैं। इमरान खान की पार्टी में महिलाओं की इज्जत सुरक्षित नहीं है। आइशा के मुताबिक, पाकिस्तान की सियासत में राजनीति से ज्यादा महिला नेताओं को सेक्स करना पड़ता है। आइशा ने कहा है कि पाकिस्तानी नेता हम महिला नेताओं को रैली से पहले बिस्तर में ले जाते हैं और रात भर उनका यौन शोषण करते हैं।

आपको बता दें हॉलीवुड अभिनेत्री एलिसा मिलानो द्वारा यौन उत्पीड़न के खिलाफ सोशल मीडिया पर चलाया गया #MeToo कैंपेन काफी दिनों तक सुर्खियों में रहा। इस कैंपेन के जरिए न केवल दुनियाभर की महिलाओं ने अपने साथ हुए यौन उत्पीड़न की घटनाओं को शेयर किया, बल्कि इस कैंपेन के जरिए कई पुरुषों ने भी अपने यौन उत्पीड़न के अनुभव साझा किये हैं। आइशा ने साल 2012 में पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी ज्वाइन की थी। इमरान खान की पार्टी में उन्हें केंद्रीय समिति का सदस्या चुना गया था। लेकिन कुछ कुछ सालों तक काम करने के बाद आइशा ने इमरान पर यौन शोषण के आरोप लगाते हुए पार्टी छोड़ दी थी।