भारत के इस गाँव में औरतें गिलास में नहीं बल्कि पति की इस चीज़ से पीती हैं पानी, जानेंगे तो खून खौल उठेगा !

Uncategorized, अजब ग़ज़ब, राजस्थान

आज हम २१वीं सदी में जी रहे हैं जहाँ यह मानना है कि लड़का हो या लड़की सब एक बराबर होते हैं. सभी को एक सामान अधिकार मिलना चाहिए. लड़कियों के हित के लिए तो संविधान ने भी कानून बनाये हैं कि कोई भी शख्स महिलाओं के साथ अत्याचार नहीं कर सकता. महिला अपने जीवन जो करना चाहे वो कर सकती है और पुरुष को कोई अधिकार नहीं कि वो उसके साथ जोर ज़बरजस्ती करे. आज के समय में लड़कियां कहा से कहाँ पहुच गयीं कि चाँद तक पहुँचने का सपना हमारे देश की महिलाओं ने पूरा किया है, मगर वहीँ कुछ जगाहें ऐसी भी हैं जहाँ की महिलाएं आज भी पुरुषों की पैरों की जूती बनी हुई हैं.

जी हाँ आज के समय में हमारे देश में एक ऐसी जगह है जहाँ आज भी औरतें अन्धविश्वास में जी रही हैं और वे सभी पानी पीने के लिए गिलास का प्रयोग नहीं बल्कि वे सभी अपने पतियों के जूते से में पानी पीती हैं. उनके ऐसा करने की वजह जानेंगे तो दनग रह जायेंगे कि आज के जमाने में भी लोंग ऐसी धारणायें रखते हैं. आपको बता दें कि यह कहानी रजवाड़ों के राज्य राजस्थान के भीलवाड़ा इलाके की है. भीलवाड़ा में बंकाया माता मंदिर नाम का एक बहुत ही मशहूर मंदिर है जहाँ महिलाओं के साथ वहां के पुजारी भूत-प्रेत को भगाने के नाम पर महिलाओं के साथ क्रूरता की हद पार देते हैं. यहाँ इस मंदिर में महिलाओं के साथ हो रहे अत्याचार को अगर आप देखेंगे तो आपके रोंगटे खड़े हो जाएंगे.

जी हाँ यहाँ के तांत्रिक पुजारी भूत प्रेत को भगाने के नाम पर महिलाओं के साथ शर्मनाक हरकत करते हैं और साथ ही उन्हें मारते-पीटते भी हैं. आपको बता दें कि ये पुजारी महिलाओं के साथ क्या कुछ नहीं करते असल में ये लोंग महिलाओं के सर पर मर्दों के गंदे जूते रखकर कई किलोमीटर तक चलवाते हैं. महिलाएं ऐसा करने में हिचकिचाती हैं लेकिन वो भी भाग्य की मारी क्या करें घर वालों के दबाव में उन्हें ऐसा करना पड़ता है.

जिस वक्त ये महिलाएं जूते को अपने मुंह में दबाकर गावों की गलियों से गुज़रती हैं और उस वक्त गाँव के बच्चे उन्हें देखकर हंसते हैं. ज़रा सोचिये जिस जूते को हम पहनते हैं और उन्हें पहन कर दुनिया भर में घूमते हैं, कितनी सारी गंदगी उसमें लिपटी रहती है और उन्ही जूतों को ये महिलाएं अपने मुह में दबाकर पूरे गाँव में घूमती हैं. इस जगह से कुछ बातें ऐसी भी सामने आई हैं कि कुछ मर्द तो ऐसे भी हैं जो केवल महिलाओं को उनकी असली जगह याद दिलाने के मकसद से ही यहाँ ले आते हैं और उनसे भी ऐसा घृणित काम करवाते हैं ताकि वे उनसे बदला ले सकें कि वो अपनी आवाज़ ना उठा सकें.