बेटी के काण्ड से शर्मसार होकर पूरे परिवार ने की आत्महत्या, एक महीने बाद बेटी ने किया अहम खुलासा

Crime

उदैपुर(राजस्थान): भारत में दिनों दिन आत्महत्याएं बढ़ती जा रही हैं. आज कल के लोगो का आत्मविश्वास बहुत जल्दी ही खुद से ख़तम हो जाता है. एक तरफ इतनी महंगाई और रोटी कमाने की स्ट्रेस और दूसरी तरफ पारिवारिक दुःख, इन सब से बहुत लोग डिप्रेशन का शिकार हो जाते हैं. इस बात में कोई दो राय नहीं है कि भारत के लोगो को अपनी इज्जत सबसे ज्यादा प्रिय होती है.इसके लिए वह जान लेने और देने से कभी पीछे नहीं हटते. कुछ ऐसा ही मामला हाल ही में हमारे सामने आया है. जहाँ उदैपुर, राजस्थान के एक शिक्षक परिवार ने पिछले महीने ही आत्महत्या कर, अपनी जीवन लीला समाप्त कर दी थी.

उनकी मौत का कारण क्या था, ये कोई नहीं जान पाया था. लेकिन, अभी हाल ही में इस परिवार को लेकर बड़ा खुल्लासा सामने आया है. जानकारी के अनुसार पूरे परिवार की आत्महत्या की ज़िम्मेदार उनकी अपनी बेटी थी. चलिए जानते हैं आखिर ये पूरा मामला क्या था..

परिवार की मौत के बाद थी बेटी लापता

आपकी जानकारी के लिए हम आपको बता दें कि ये पूरा मामला दरअसल, प्रेम विवाह का था. उदैपुर के शिक्षक परिवार की बेटी कोमल ने पृथ्वीराज नामक युवक से शादी कर ली थी. जिसके कारण उसका परिवार उससे ना-खुश था. उन्होंने कोमल को रोकने की हर मुमकिन  कोशिश की लेकिन, कोमल ने उनकी एक ना सुनी. इसके बाद घर की इज्जत जाते देख 9 अक्टूबर 2017 कोमल के पूरे परिवार यानि विनोद शर्मा(कोमल के पिता), उनकी पत्नी कल्पना शर्मा, छोटी बेटी अंजू और बेटे निखिल ने ज़हर पी के अपनी जान दे दी थी. तब से कोमल और उसका पति पृथ्वीराज गायब थे. लेकिन, अब एक महीने बाद कोमल और उसका पति इस मामले का खुल्लासा करने खुद पुलिस के पास पहुँच गये और कहानी को एक नया मोड़ दे दिया. चलिए जानते हैं कोमल और उसके पति का इन मौतों को लेकर क्या कहना है.

घर से भाग चुकी थी कोमल

komal and nikhil

जानकारी के अनुसार अपने परिवार की खुदखुशी के एक महीने के बाद कोमल और उसका पति पृथ्वीराज पुलिस थाने अपना बयान देने पहुंचे. वहां कोमल ने बताया कि वह और पृथ्वीराज बचपन से अच्छे दोस्त थे और साथ में खेलते और पढ़ते थे. दोनों के घरवालों को उनकी बढ़ती नजदीकियों का जब पता चला तो उनमे बहस होनी शुत्रु हो गयी थी. लेकिन, कोमल पृथ्वीराज के साथ जीना चाहती थी इसके चलते वह घर से भागगयी. घर से भागने के बाद कोमल के परिवार ने अपनी जान दे दी. जिसके बाद पुलिस ने कोमल को ढूँढने की काफी कोशिश की लेकिन, मोबाइल नंबर बंद होने के कारण वह उन्हें मिल ना सकी.

इसके इलावा पुलिस का कहना है कि कोमल बालिग लड़की थी, इसलिए उसको अपनी मर्जी का जीवन साथी चुनने का पूरा हक था. केवल यही नहीं बल्कि, कोमल के परिवार ने सुसाइड नोट में अपनी मौत का ज़िम्मेदार भी खुद को ही बताया था. इसलिए कोमल का इस केस में कोई लेना देना नहीं मान कर उस्ससे केवल बयान लेकर उसको छोड़ दिया गया. फ़िलहाल कोमल अपने पति पृथ्वीराज के साथ उसके घर में रह रही है.