रोते हुए भाई के शव के टुकड़े बीन रही थी ‘बहन’,लेकिन भाई मरा नहीं था बल्कि सच ने सबको हिला दिया

Uncategorized, देश

गुमला (झारखंड)। रांची-गुमला मेन रोड पर रविवार को एक ट्रक की चपेट में आने 30 वर्षीय एक युवक की मौत हो गई। हादसे के बाद मौके पर भीड़ जुट गई। भीड़ में से एक महिला निकली युवक के चेहरे को देख फूट-फूटकर रोने लगी। महिला ने शव की पहचान अपने भाई के रूप में की।

इसके बाद सड़क पर बिखरे मांस के लोथड़ों को उठाकर वो जमा करने लगी। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। महिला भी साथ गई। इसी बीच महिला का बेटा पहुंचा और उसने बताया कि मामा जिंदा है। एक्सीडेंट में मृत युवक कोई और है। तब जाकर महिला ने राहत की सांस ली।

-दरअसल, शव का चेहरा बिगनी देवी के भाई से काफी मिल रहा था। इसलिए बिगनी अपने भाई को मृत समझ काफी रोने लगी। फिलहाल मृत युवक की पहचान नहीं हो सकी है।

-सड़क किनारे स्थित खेत में बिगनी देवी काम कर रही थी। इसी बीच रोड एक्सीडेंट हुआ और अन्य लाेगों के साथ वो भी मौके पर पहुंची।

-बिगनी देवी ने शव की शिनाख्त अपने भाई धोधरा गांव निवासी बंधना उरांव के रूप में की और शव से लिपटकर रोने बिलखने लगी।

-फिर रोते हुए सड़क पर बिखरे मांस के लोथड़ों को समेटकर एक प्लास्टिक के बोरे में जमा करने लगी। उसने पुलिस को भी शव भाई का होने की बात कही।

-मौके पर पहुंचे गुमला थाना के एएसआई अजय कुमार सिंह नाम पता नोट करने के बाद एक ट्रैक्टर में लाद कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा।

महिला के परिजनों को लोगों ने दी सूचना

-बिगनी देवी शव के साथ पोस्टमार्टम हाउस भी पहुंच गई। लोगों ने बिगनी देवी के परिजनों को बताया कि वो भाई की मौत पर पोस्टमार्टम हाउस में काफी विलाप कर रही है।

-परिजन यह सुन हैरान रह गए। क्योंकि बिगनी देवी का भाई बंधना घर पर सकुशल मौजूद था। इसके बाद बिगनी का बेटा अपने दोस्त के संग पोस्टमार्ट हाउस पहुंचा और मां को सही बात बताई।

-इसके बाद पल भर में बिगनी देवी का दुख खुशियों में बदल गया। मा की संतुष्टि के लिए बेटे ने फिर मामा से फोन पर बात भी करवाई।

Source: dainik bhaskar/original story