रयान मर्डर केस में आया नया मोड़, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हुआ ये बड़ा खुलासा।

Featured, दिल्ली

नई दिल्ली, 13 सितंबर :रयान इंटरनेशनल स्कूल में 7 साल के छोटे बच्चे की निर्मम ह्त्या के बाद उसकी पोस्टमार्टम रिपोर्ट आ गई है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में जो बातें सामने आई है उसके बाद से स्कूल मैनेजमेंट की मुश्किलें बढ़ना तय माना जा रहा है। एक के बाद एक खुलासे से पूरी जांच घूम चुकी है। जिस डॉक्टर ने बच्चे का पोस्टमॉर्टम किया है उसके एक बयान ने बड़े सवाल खड़े कर दिए हैं।

प्रद्युम्न की मौत के बाद उसके शव की जांच करने वाले सरकारी डॉक्टर दीपक माथुर ने बताया कि जांच के दौरान पता चला कि उसकी मौत का कारण ज्यादा खून बह जाना था। हालांकि, उसके शरीर पर कहीं भी यौन शोषण से संबंधित कोई निशान नहीं मिले है। हालांकि, इससे पहले जिस कंडक्टर को आरोपी बना पकड़ा गया है उसने कबूल किया था की वो बच्चे से जबरदस्ती कर रहा था इसलिए उसने उसे मारा था।

यानि अब एक बार फिर ये साबित हो रहा है की कंडक्टर किसी के दबाब में खुद पर आरोप ले रहा है ? जबकि डॉक्टर का साफ़ बताना है की बच्चे पर यौन हमला नहीं हुआ था। वहीं, ड्राइवर ने चौंकाने वाला खुलासा करते हुए बताया कि हत्या में इस्तेमाल चाकू टूल किट का हिस्सा नहीं था। राइवर ने बताया की टूल किट में चाकू होने की बात कहने के लिए स्कूल मैनेजमेंट की ओर से दबाव बनाया गया।

ड्राइवर ने बताया कि कंडक्टर खून से लथपथ प्रद्युम्न को कार तक ले गया गया था। इसी वजह से उसके शर्ट पर खून लग गया था। आपको बता दें, शुक्रवार को गुरुग्राम के रयान इंटरनेशनल स्कूल में दूसरी कक्षा में पढ़ने वाला 7 साल के मासूम प्रद्युम्न का गला रेतकर बेरहमी से हत्या कर दी गई थी।

  • क़त्ल का इल्जाम स्कूल बस का कंडक्टर अशोक पर लगा था। वहीं, बच्चे के माता-पिता का कहना है कि आरोपी चाहे कोई भी हो कंडक्टर को फंसाया गया है।