6 वर्ष का लड़का निकला प्रेग्नेंट, डॉक्टरों के उड़े होश, अजीबोगरीब वाकया

अजब ग़ज़ब

वर्तमान इंटरनेट के युग में सोशल मीडिया या अन्य माध्यमों से कभी-कभी कुछ अचरज भरी बातें हमें जानने को मिलते हैं, कभी डरावनी, कभी भयावह, कभी रोंगटे खड़े कर देने वाली, अद्भुत, रोमांचकारी
पर यंहा आज, यह जानकारी प्रकृति के नियम के बिल्कुल विपरीत है

प्रकृति के नियमों के विपरीत एक ऐसा ही अजीबोगरीब वाकया सुनने को मिला

मामला झारखंड राज्य के गढ़वा जिले का है जहां 6 वर्षीय रितेश के पेट में दर्द उठा, शहर में ही कुछ डॉक्टरों को दिखला कर दवा दे दी जाती थी और कभी कभी दर्द शांत हो जाता था, पर इसका सही उपाय नहीं मिल पा रहा था, दर्द दोबारा उठता ही रहता था

इसलिए रितेश को वाराणसी लाया गया

6 वर्षीय बालक को वाराणसी के एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां डॉक्टरों ने उसका इलाज करना चालू किया, इलाज में कुछ ऐसी बात पता चली जिसमें डॉक्टरों के भी होश उड़ गए

सामान्य तौर पर महिलाओं को गर्भधारण करने की क्षमता प्रकृति ने दी है, जब किसी महिला को बच्चा होता है तो उससे के घर के जुड़े लोग संतानोत्पत्ति के बाद खुशियां मनाते हैं या गर्भ धारण करने के बाद, संतान उत्पत्ति होने के पहले ही घर के लोगों के द्वारा खुशी मना ली जाती है

पर इस मामले में रितेश के गर्भधारण की बात सुनकर घरवालों ने खुशियां नहीं बल्कि दुख जताया

मामला दुख जताने का ही था क्योंकि बात प्रकृति के नियम के बिल्कुल विपरीत थी

वाराणसी के प्राइवेट अस्पताल में भर्ती होने के बाद डॉक्टरों ने बारंबार उठ रहे दर्द के लिए पेट में ट्यूमर या अपेंडिक्स होगा ऐसी बात सोची थी पर इसके विपरीत पेट में कुछ और ही था

डॉक्टरों ने सोनोग्राफी अल्ट्रासाउंड किया, तो उन्हें भी दिल दहला देने वाली बात का पता चला
रितेश के पेट में 900 ग्राम का भ्रूण था

6 वर्ष का बालक इस असहनीय दर्द को जाने कैसे सहन कर रहा था । डॉक्टरों ने बताया कि पांच लाख बच्चों में ऐसे अनोखे मामले सामने कभी-कभी आ जाते हैं दरअसल रितेश के पेट में यह भ्रूण उसके जन्म के पहले से ही उसके पेट में आ गया था

रितेश की मां जब गर्भवती थी तब उसके पेट में दो भ्रूण पल रहे थे, जिसके कारण एक भ्रूण के पेट में दूसरा भ्रूण चला गया इसलिए ऐसी समस्या आ गई

डॉक्टरों ने पेट का ऑपरेशन कर भ्रूण को निकाला

पेट से 900 ग्राम का भ्रूण निकल जाने के बाद, स्वस्थ होते ही रितेश को दोबारा दर्द नहीं उठा
अब रितेश स्वस्थ है