सुहागिन महिलाओं को भूल से भी इस दिन नहीं धोना चाहिए बाल, मुश्किल में पड़ सकता है पूरा परिवार…….

Health, आध्यात्म

दस्तों जैसा की आप सभी जानते है, कि हमारे हिंदूधर्म में बहुत प्रथाएं ऐसी चली आ रही है! बहुत से लोगों का मानना है, कि ये सिर्फ एक भ्रम होता है, लेकिन बहुत से लोग इसे सही मानते हैं! आपको बता दें, कि इन परंपराओं का बहुत महत्‍व है! क्‍योंकि इसके पीछे कोई न कोई वहज जुड़ी होती है! आइये आपको बताते है, कुछ महत्वपूर्ण बातें-

आपकी जानकारी के लिए बता दें, कि हमारे शास्‍त्रों में व्‍यक्ति के जन्‍म से लेकर विवाह व मृत्‍यु तक बहुत सी परंपराएं हैं! मनुष्य की दिनचर्या से लेकर अंतिम संस्‍कार तक हर पल लिए कोई ना कोई परंपरा जुड़ी रहती है! जैसे स्नान के बाद ही पूजा करना, खाने के पहले नहाना, ग्यारस को चावल नहीं खाना, मंगलवार, गुरुवार और शनिवार को बाल नहीं कटवाना चाहिए!

आपको बता दें, कि महिलाओं के बारे में शास्‍त्रों में लिखा है, कि महिलाओं बाल धोने को लेकर भी विशेष दिन बनाये गये हैं! महिलाओं के इन खास दिन पर बाल नहीं धोना चाहिए! कहा जाता है, जो महिलाएं इस दिन बाल धोती हैं! तो उनके पति के साथ परिवार पर बाधाएं आ जाती हैं!

* सोमवार के दिन बाल धोने से- सोमवार के दिन सुहागिन महिलाओं को बाल नहीं धोना चाहिए क्योंकि शास्‍त्रों में लिखा है, कि इस दिन बाल धोने से बेटी पर भार रहता है! और इस दिन कभी घर में पोछा नहीं लगाना चाहिए और न जाले साफ करने चाहिए क्‍योंकि ऐसा करने से न तो सिर्फ घर की बेटियों पर मुसीबत आती है, बल्कि आपके घर में उन्नति नहीं होती है!

* बुधवार के दिन बाल धोने से- महिलाओं केबुधवार के दिन बाल धोने से उनके भाई पर मुसीबत आती है! खासकर लड़कियों को इन बातों का ध्‍यान रखना चाहिए, क्‍योंकि उनका ऐसा करना उनके भाई को आफत में डाल सकती है!

* गुरुवार के दिन बाल धोने से- जो महिलाएं गुरुवार के दिन बाल धोती है, उनके पति की उम्र इससे कम हो जाती है! इस दिन पर बाल धोने से पति किसी परेशानियों में भी पड़ सकता है!