दुनिया की 5 सबसे अनसुलझी रहस्य्मयी घटनाये जिन्हे आज तक सुलझाया नहीं जा सका,कमजोर दिल वाले दूर रहे !

Uncategorized

दुनिया में एक से एक घटनाएं होती हैं। कई घटनाएं जहां बेहद सामान्य होती हैं तो कुछ घटना बेहद चौंकाने वाली होती हैं। आज हम आपको दुनियाभर की कुछ ऐसी घटनाओं के बारे में बताने जा रहे हैं जो बेहद रहस्यमय मानी जाती हैं। इनमें से कई घटनाएं ऐसी हैं जिसके ऊपर साइंटिफिक रिसर्च भी किए गए, लेकिन ठीक-ठीक कारण पता नहीं चल सका।

हालांकि, यह अपने आप में अजीबोगरीब है, लेकिन साइंस की तरक्की के बावजूद गई घटनाओं पर से अभी पर्दा नहीं उठ सका। आइए जानते हैं ऐसी ही कुछ घटनाओं के बारे में। फैक्ट्स की फेमस वेबसाइट therichest.com पर इन घटनाओं को सबसे अधिक रहस्यमय घटनाओं की सूची में शामिल किया गया है।

आज ये देख कर आप भी चौंक जाओगे आपको हम बता दें आज तक इन घटनाओं का सच बाहर नहीं आ सका है तो सबसे पहले बात करते हैं इस पहली घटना की जिसको जानकार आप सोच में पड़ जाओगे.

कूपर फैमिली ने 1950 के आसपास टेक्सास में एक पुराना घर खरीदा। उस घर में पहली रात जश्न मनाने के दौरान उनके पिता ने परिवार की फोटो ली। इस फोटो में दो बच्चे अपनी मां और दादी की गोद में बैठे हुए हैं। इस फोटो के डेवलप होने के बाद पूरा परिवार ही आतंकित हो गया, क्योंकि फोटो में परिवार के साथ ही एक लटकती हुई लाश भी दिखाई दे रही थी। दावा किया गया कि फोटो लेने के वक्त वहां ऐसी कोई भी चीज मौजूद नहीं थी। कुछ लोगों ने कहा कि संभव है कि निगेटिव के साथ छेड़छाड़ की गई हो, लेकिन कूपर फैमिली ने इससे इंकार किया। बाद में फोटो की सच्चाई जानने की कई लोगों ने कोशिश की, लेकिन यह अब भी रहस्य बनी हुई है।

102-1 (1)

नॉर्वे के होल्टलेन में हेस्सडालेन घाटी के आकाश में अक्सर देखी जाने वाली रोशनी एक अबूझ पहेली की तरह है। ज्यादातर यह रहस्यमयी रोशनी चमकदार सफेद, पीले या लाल रंगों में एक घंटे से अधिक देर तक दिखाई दी हैं। यह रोशनी तेजी से कभी धीमे हवा में तैरती हैं, तो कभी एक ही जगह ठहर-सी जाती है। इस तरह की घटना केवल नार्वे में ही नहीं, बल्कि दुनिया के दूसरे भागों में भी 1940 के बाद से खबरों में आती रही हैं। इसके कारणों को जानने की का काफी कोशिशें की गईं, पर किसी नतीजे पर नहीं पहुंचा जा सका।

103-1

यह फोटो 1964 में जिम टेम्पलेटन नाम के एक फोटोग्राफर और स्थानीय इतिहासकार ने ली थी। वे अपनी बेटी को इंग्लैड के कमब्रिया के एक इलाके ‘सोल्वे फर्थ’ ले गए थे। फोटोज को डेवलप करने पर उन्हें एक फोटो में एस्ट्रोनॉट जैसी आकृति दिखाई दी। जिम ने यह दावा किया था कि फोटो लेने के दौरान उनकी बेटी के पीछे कोई नहीं था। इस फोटो को लेकर काफी बहस भी हुई थी। इसलिए इसे अक्सर रहस्यमय घटनाओं की लिस्ट में शामिल किया जाता है।

104-1

20 अगस्त 2007 को सेलिश सागर के समुद्री तटों पर कई कटे हुए इंसानों के पैर पाए गए। इनमें से कुछ की ही पहचान हो सकी। अनुमान लगाया गया कि ये पैर किसी बोटिंग एक्सीडेंट या समुद्र में हुए प्लेन क्रेश में मारे गए लोगों के हो सकते हैं। दूसरा, ये क्वाड्रा आइसलैंड के प्लेन क्रेश में मारे गए चार लोगों के पैर भी हो सकते हैं। पैरों पर किसी तरह के निशान नहीं पाए गए, पर मर्डर और टॉर्चर के बाद की गई हत्या से भी इनकार नहीं किया जा सकता। 26 दिसंबर 2004 को एशिया में आई सुनामी से भी इसे जोड़ा गया।

105-1

1638 को सेंट पेंक्रास के एक चर्च को एक जोरदार आंधी का सामना करना पड़ा। इस दौरान चर्च से एक आसमानी बिजली टकराई थी। दोपहर का समय होने के कारण चर्च प्रार्थना करते 300 लोगों से खचाखच भरा हुआ था। चार लोग इसमें मारे गए, 60 बुरी तरह घायल हुए और बिल्डिंग भी तहस-नहस हो गई। इस घटना के पहले अजीब अंधेरा छा गया था। तेज रोशनी चर्च और उसमें बैठे लोगों को नुकसान पहुंचाकर वापस चली गई। therichest.com के मुताबिक, स्थानीय लोगों ने दावा किया था कि एक शैतान ने जुआरियों के बुलाने पर इस घटना को अंजाम दिया था। असल में क्या हुआ था, इसे लेकर आज भी अटकलें ही लगाई जा रही हैं। कई रिसर्चरों ने इस घटना के तह में जाने की कोशिश की, लेकिन उन्हें भी कुछ हाथ नहीं लगा।

https://youtu.be/ZquxwUkTr0U