इस दरवाजे के पीछे है दूसरी दुनिया, यम द्वार जानकर होश उड़ जायेंगे आपके !

Uncategorized

यमलोक का मार्ग, रात को रुकने वाला सुबह लौट कर नहीं आता… आप भूत और प्रेतों पर विश्वास करते हैं क्या,अगर नहीं तो यहां आपको जरूर विश्वास हो जाएगा. दअसल इस यमलोक के रास्ते पर जो गया वह वापस नहीं लौट सका.

भारत में हमेशा ही लोगों की देवी-देवताओं पर अपार श्रद्धा रही है. इसलिए भारतीयों की मान्यता है कि आत्माएं होती हैं, वे अच्छी हों या बुरी. इसलिए कुछ लोग भूत और प्रेतों में विश्वास करते हैं.

https://youtu.be/WDrpuV-LzkI

भारत में ऐसे कई इलाके हैं जहां भूतों और प्रेतों की कहानियां प्रचलित हैं, वहां कई ऐसे रहस्य हैं जो कभी सुलझ नहीं सके. ऐसी ही कहानी है चोरटेन कांग नग्यी की, यह एक स्तूप है, जिसे तिब्बती लोगों ने यह नाम दिया है. इसे यमलोक का दरवाजा भी कहा जाता है. ऐसा इसलिए है, क्योंकि यहां अगर कोई भूल से भी रात को रुक जाता है, तो सुबह लौट के नहीं आता. चोरटेन कांग नग्यी की एक स्तूप है, जिसे तिब्बती लोगों ने यह नाम दिया है. इसे यमलोक का दरवाजा कहा जाता है. ऐसा इसलिए है, क्योंकि यहां अगर कोई भूल से भी रात को रुक जाता है, तो सुबह लौट के नहीं आता.

चीन के स्वायत्त क्षेत्र तिब्बत में दारचेन से 30 मिनट की दूरी पर यह जगह बसी हुई है, जो कैलाश जाने वाले मार्ग पर आती है. हिंदू मान्यता अनुसार इसे यमराज के घर का दरवाजा माना जाता है. आए दिन यहां अनहोनी घटनाएं होती रहती है, जिससे जुड़ा रहस्य अभी तक सुलझ नहीं पाया है. आज भी कई ऐसे रहस्य भी हैं, जिसे विज्ञान भी नहीं सुलझा पाया है.

भारत में ऐसे कई इलाके हैं जहां भूतों और प्रेतों की कहानियां प्रचलित है, वहां कई ऐसे रहस्य है जो कभी सुलझ नहीं सके. अधिक जानकारी के लिए देखें नीचे दी गई वीडियो. अगर किसी वजह से वीडियो न चले तो वीडियो देखने के लिए यहाँ क्लिक करें !